बिहार बाढ़: शिवहर-सीतामढ़ी एनएच धनकौल डाइवर्स पर बागमती की पुरानी धारा का पानी, पानी ठप

बिहार नदियों का जलस्तर नीचे आने से नदियों के किनारे बसे गांवों में तत्काल राहत मिलने लगी है। हालांकि, पानी को भी घटाया है….

Source link

बिहार बाढ़: बिहार बाढ़: उत्तर पूर्व में भी जारी, गंडक ने संभावित खतरे का सामना किया

नेपाल में शीशा थामने से गंडक बागमती, कमला नदी में उफ़ान कम शुरू हो गया है। जलस्तर घटने के क्रम में हैं। पश्चिमी और चम्पारण में गंडक और बूढ़ी गंडक क्रीड़ा… .

Source link

बिहार बाढ़: बिहार में बाढ़ प्रभावित पानी का खतरा, जल में जल, प्रशिक्षण था

यौवन में बाढ़ आना शुरू हो गया है। मुजफ्फरपुर के तीन प्रखंडों में गंडक फाइट लड़ रहे हैं। साहेबगंज व…

Source link

सेना की निगरानी: 2776 में से 423 अभ्यर्थियों ने मारी बाजी की

शहर के चक्कर मैदान में सेना की प्रक्रिया की 10 वें दिन शनिवार को हुई दौड़ में 2776 अभ्यर्थी शामिल हुए। इसके लिए 4669 अभ्यर्थियों ने अपना पंजीकरण कराया था। दौड़ में कुल 423 अभ्यर्थी सफल हुए। सफल अभयर्थी मेडिकल जांच में शामिल होंगे। ट्रेडमैन श्रेणी के लिए हुई दौड़ में मुजफ्फरपुर के अलावा शिवहर व पश्चिम चंपारण जिलों के अभ्यर्थी शामिल हुए।

ठंड के बीच शुक्रवार देर रात से ही अभ्यर्थी मैदान के आसपास जुटने लगे थे। अहले सुबह तीन बजे से मैदान में युवाओं का प्रवेश कराया गया। प्रवेश के दौरान कोरोना प्रोटोकॉल का पालन किया। इससे पूर्व प्रवेश पत्र आदि की जांच की गई। मौसम साफ रहने पर सात बजे दौड़ शुरू हो गई है। दौड़ में सफल होने के लिए अभ्यथियों ने अपना दमखम दिखाया।

आज समस्तीपुर सहित तीन जिलों के युवक ने किया आगाज:

सेना दिखने के 11 वें दिन रविवार को चक्कर मैदान में सोल्जर ट्रेडमैन के लिए सीतामढ़ी, मधुबनी और समस्तीपुर के अभयर्थी दौड़ लगाए गए। इसके लिए कुल 3886 युवाओं ने निबंधन कराया है। दौड़ में शामिल होने के लिए तीनों जिलों के युवक शनिवार को दोपहर से ही शहर में पहुंचने लगे। युवक जंक्शन के अलावा चक्कर मैदान के आसपास के होटलों, रैन बसेरा आदि स्थानों पर डेरा डाला गया।

Source hyperlink