विपक्ष के भारी हंगामे के बीच पुलिस बिल सदन में पेश, लापरवाही 4.30 बजे तक विरोध

विपक्ष के भारी हंगामे के बीच पुलिस बिल सदन में पेश, लापरवाही 4.30 बजे तक विरोध

राजद की ओर से आज यानी 23 मार्च को बिहार विधानसभा घेराव कार्यक्रम को देखते हुए जिला प्रशासन ने शहर के प्रमुख चौक-चौराहों पर धार्मिक और पुलिस बल की तैनाती की है। विशेषकर विधानसभा के आसपास के क्षेत्र में विशेष चौकसी की व्यवस्था की गई है। डीएम डॉ। चंद्रशेखर सिंह के निर्देश पर पटना के जिन प्रमुख स्थानों पर मजिस्ट्रेट और भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई है, उसमें इनकम टैक्स, डाक बंगला, जेपी गोलंबर, रामगुलाम चौक, कारगिल चौक, हड़ताली मोड़, सचिवालय मोड़, आर ब्लॉक, गर्दनीबाग , रोडिंग रोड आदि शामिल हैं। अधिकांश स्थानों पर वज्र वाहन भी तैनात किए गए हैं ताकि किसी प्रकार की स्थिति से निपटा जा सके। आम लोगों को किसी प्रकार की परेशानी न हो और यातायात सुगम तरीके से चले, इसकी पूरी व्यवस्था की गई है।

राजद लाइव अपडेट का बिहार विधानसभा घेराबंदी कार्यक्रम:

– विपक्ष के भारी हंगामे के बीच मंगलवार को विधानसभा में पुलिस बिल (बिहार सशस्त्र पुलिस बल अधिनियम 2021) पेश कर दिया गया। हंगामे को देखते हुए सदन की नकारात्मकता साधे चार बजे तक के लिए रक्षा कर दी गई।

भारी हंगामे के बीच पुलिस ने तेजस्वी, तेजप्रताप सहित कई कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया।

प्रदर्शन के दौरान आरजेडी समर्थक उग्र हुए झड़प के बाद आरजेडी समर्थकों पर पुलिस ने लाठीचार्ज किया।

प्रदर्शन के दौरान पुलिस की ओर से वाटरॉन के इस्तेमाल के बाद आरजेडी समर्थक उग्र हुए। बेरिकेडिंग ब्रेककर आगे बढ़े। इस दौरान पुलिस और समर्थकों के बीच पत्थर बाजी भी हुई। इसके

बिहार विशेष सशस्त्र पुलिस विधेयक के खिलाफ विधानसभा घेराव की ओर बढ़े उग्र राजद नेताओं और कार्यकर्ताओं को रोकने के लिए पुलिस ने वाटरसन का इस्तेमाल कर रोकने की कोशिश की गई।

बिहार स’शस्त्र पुलिस बल विधेयक के खिलाफ तेज प्रताप सहित राजद के नए नेता शामिल हैं। बता दें कि इस मार्च के लिए राजद को प्रशासन की ओर से अनुमति नहीं मिली थी। इसके बावजूद राजद समर्थक इस घेराव के लिए जुटे।

बिहार विशेष सशस्त्र पुलिस विधेयक के खिलाफ विपक्ष का विधानसभा में जबरदस्त हंगामा। वेल में आकर की नारेबाजी। 11.6 मिनट पर सभा अध्यक्ष ने 12 बजे तक के लिए कार्यवाही की

– 10, सर्कुलर रोड पर मीडिया से बातचीत में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव ने कहा कि बिहार स’शस्त्र पुलिस बल बिल काला कानून है और इसे किसी भी हालत में सदन में पास नहीं होने दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि सरकार 19 लाख रोजगार के वादे सहित जनहित के तमाम मुद्दों पर ध्यान नहीं दे रही है इसलिए हमने विधानसभा घेरने का फैसला लिया है। इस मौके पर उन्होंने राजद के मुखपत्र राजद समाचार का भी लोकार्पण किया।

– गांधी मैदान स्थित जेपी गोलंबर के पास राजद करती कार्यकर्ताओं का जुटान शुरू हो गया है भारी संख्या में पुलिस बल और मजिस्ट्रेट वहां मौजूद हैं वज्र वाहन भी बुला लिया गया है किसी प्रकार का उपद्रव नहीं हो इसीलिए रामगुलाम डाक बंगला कारगिल चौक के पास भी है। पुलिस बल और मजिस्ट्रेट तैनात जिला नियंत्रण कक्ष से हर जगह की सूचना ली जा रही है

तेजस्वी का आह्वान, रुकना नहीं, थमना नहीं, निरंकुश सत्ता के सामने झुकना नहीं
बता दें कि नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव के नेतृत्व में युवा राजद का आज बेरोजगारी, कानून व्यवस्था, महंगाई, भ्रष्टाचार, शिक्षा, स्वास्थ्य, संस्कारकर्मी, शिक्षक अभ्यर्थियों की नियुक्ति सहित अन्य मुद्दों को लेकर विधानसभा का घेराव कार्यक्रम है। तेजस्वी यादव ने इस घेराव को लेकर सोमवार को ट्वीट कर आह्वान किया कि रुकना नहीं, थमना नहीं, निरंकुश सत्ता के सामने झुकना नहीं। उन्होंने कहा कि हम राजद के सहयोगियों बेरोजगारी और अन्य मुद्दों के साथ बिहार विशेष सशस्त्र पुलिस विधायक के गठन के विरोध में विधानसभा का घेराव करेंगे।

युवा राजद के प्रदेश प्रवक्ता अरुण कुमार यादव के अनुसार इस चक्रव कार्यक्रम में भाग लेने के लिए सुबह 10 बजे से कार्यकर्ताओं का जुटान जेपी गोलंबर, गांधी मैदान पर होगा। पूर्वाह्न 11.30 बजे नेता प्रतिपक्ष के नेतृत्व में विधानसभा घेराव के लिए मार्च शुरू होगा। उन्होंने इस चक्रव्यू कार्यक्रम में हजारों लोगों की भागीदारी का दावा किया है। युवा राजद प्रवक्ता ने आरोप लगाया कि सरकार के इशारे पर पार्टीजनों द्वारा लगाए गए पोस्टल-बैनर हटवा दिए गए हैं। युवा राजद के प्रदेश अध्यक्ष मो। कारी सोहैब ने विधानसभा घेराव कार्यक्रम के ऐतिहासिक होने की बात कही है।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *