बिहार स्पीकर चुनाव को लेकर MLA को फोन के मामले में लालू यादव के खिलाफ PIL दाखिल करेगा BJP

बिहार स्पीकर चुनाव को लेकर MLA को फोन के मामले में लालू यादव के खिलाफ PIL दाखिल करेगा BJP

बिहार विधानसभा अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए रांची से लालू के भाजपा विधायक को कथित तौर पर फोन करने को लेकर बवाल थमता नजर नहीं आ रहा है। इस सियासी बवाल के बाद भाजपा ने उन्हें कोटवार जेल भेजने की मांग कर रही है। वहीं भाजपा मामले को लेकर रांची हाईकोर्ट में पीआईएल दाखिल करेगी। बिहार भाजपा के अध्यक्ष संजय जायवाल ने कहा कि लालू के फोन मामले में भाजपा रांची उच्च न्यायालय में पीआईएल दाखिल करेगी।

यह भी पढ़े :-आईसीसी पूर्ण नामांकन सूची | ICC ने विराट कोहली, रविचंद्रन अश्विन को मेकड अवार्ड के मेन्स प्लेयर के लिए नामित किया

उधर भाजपा नेता नीरज कुमार बबलू ने लालू को तुरंत ही तिहाड़ जेल भेजने की मांग करते हुए पूरे मामले की सीबीआई जांच किए जाने की मांग कर दी है। मामले में भागलपुर की पीरपांती सीट से चुनकर आए ललन पासवान ने ऑड के आधार पर दावा किया कि लालू यादव ने उन्हेंने फोन कर मंत्री पद का प्रस्ताव देते हुए सरकार गिराने की बात कही। हालांकि उन्होंने यह प्रस्ताव ठुकरा दिया। ललन पासवान के अनुसार संयोग से उनहें लालू यादव का फोन तब आया जब वह पूर्व उपमुखिया मंत्री सुशील मोदी के आवास पर बैठे थे। भाजपा विधायक ने कहा कि फोन के बारे में उन्होंने पार्टी के बड़े नेताओं को जानकारी दे दी है।

सुशील मोदी ने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक ऑड जारी किया है और इसमें उन्होंने दावा किया है कि लालू प्रसाद यादव ने जेल से भाजपा विधायक ललन पासवान को फोन किया और उन्हें मंत्री पद का लालच दिया। सुशील मोदी की ओर से जो ऑड जारी किया गया है, उसमें लालू प्रसाद यादव की आवाज सुनाई दे रही है। हालांकि, आवाज लालू प्रसाद यादव की है या नहीं, यह ऑड सही है या नहीं, इसकी पुष्टि (लाइव हिन्दुस्तान) करती है।

 

आपको बता दें कि भाजपा नेता और पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने मोबाइल नंबर शेयर करते हुए रांची की जेल में सजा काट रहे राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव पर आरोप लगाते हुए कहा कि वह फोन कर एनडीए विधायकों को तोड़ने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि लालू एनडीए के विधायकों को मंत्री बनाने तक का प्रस्ताव दे रहे हैं। इसको लेकर उन्होंने ट्वीट भी किया था।

 

Source:
#हिंदुस्तान समाचार#  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *