बिहार बोर्ड १० वीं का रिजल्ट २०२१: बिहार बोर्ड के छात्र यहां सबसे पहले देख सकते हैं मैट्रिक रिजल्ट, पाट्स पंजीकरण सूची

बिहार बोर्ड १० वीं का रिजल्ट २०२१: बिहार बोर्ड के छात्र यहां सबसे पहले देख सकते हैं मैट्रिक रिजल्ट, पाट्स पंजीकरण सूची

बिहार बोर्ड १० वीं का रिजल्ट २०२१: बिहार बोर्ड मैट्रिक (कक्षा १०) रिजल्ट जारी होने का इंतजार कर रहे छात्रों को जल्द ही खुशखबरी मिल सकता है। बिहार बोर्ड की ओर से 05 अप्रैल के आसपास शाइबी मैट्रिक रिजल्ट घोषित किए जाएंगे। रिजल्ट जारी होने के साथ ही बिहार बोर्ड के छात्र लाइवहिन्दुस्तान पर सबसे पहले रिजल्ट देखना होगा।

रिपोर्ट के अनुसार टॉपर्स के कॉपियों की रिचेकिंग लगभग पूरा होने वाला है। रीचेकिंग के बाद मेरिट लिस्ट तैयार होगी और फिर रिजल्ट घोषित करने की तिथि का ऐलान। लेकिन बिना तिथि बताए अचानक ही रिजल्ट घोषित किया जा सकता है। बिहार बोर्ड 10 वीं की परीक्षा में भाग लेने वाले अभ्यर्थी अपना रिजल्ट बिहार बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट onlinebseb.in और biharboardonline.bihar.gov.in के अलावा livehindustan.com के “बोर्ड रिजल्ट्स” पेज पर भी चेक कर सकते हैं।

यहां सबसे पहले देखिए मैट्रिक रिजल्ट- बिहार बोर्ड १० वीं का रिजल्ट २०२१

पंजीकरण सूची देखें:
रिजल्ट जारी होने वाले ही livehindustan.com की ओर से आपके मोबाइल पर रिजल्ट का निष्कर्ष भेजा जाएगा। इसके लिए आपको आपको नीचे दिए गए पंजीकरण पर पंजीकरण करना होगा-

बिहार मैट्रिक का रिजल्ट 2021 रजिस्ट्रेशन लिंक

बिहार बोर्ड 10 वीं परीक्षा 2021 का आयोजन 17 फरवरी से 24 फरवरी 2021 तक किया गया था। बिहार बोर्ड मैट्रिक परीक्षा में कुल 16 लाख 84 हजार 466 परीक्षार्थी शामिल हुए। इनमें आठ लाख 37 हजार 803 छात्र और आठ लाख 46 हजार 663 छात्र थे। मैट्रिक परीक्षा की कॉपियों का मूल्यांकन 12 से 24 मार्च तक पूरा कर लिया गया था। इससे पहले 26 मार्च को बिहार बोर्ड इंटर का रिजल्ट भी जारी किया जा चुका है। कोरोना काल में भी सबसे तेजी से परीक्षा प्रक्रिया पूरी करने और रिजल्ट घोषित करने के मामले में बिहार बोर्ड इतिहास रच चुका है। अगले एक सप्ताह के भीतर मैट्रिक रिजल्ट जारी होने के बाद बिहार बोर्ड के नाम सबसे जल्दी मैट्रिक रिल्जल्ट जारी करने का एक और रिकॉर्ड बन जाएगा।

पिछले वर्ष का मैट्रिक रिजल्ट
पिछले वर्ष बिहार बोर्ड 10 वीं रिजल्ट 26 मई को घोषित हुआ था। कोरोनाइरस संक्रमण के कारण इसकी घोषणा में देरी हुई थी। पिछले वर्ष (2020) बिहार बोर्ड मैट्रिक परीक्षा में कुल 80.59 प्रतिशत स्टूडेंट्स पास हुए थे। इनमें से 4,03,392 छात्र प्रथम श्रेणी में, 524217 सेकेंड क्वाडजन से और 2,75,402 थर्ड कंप्यूटरजन से हुए थे। परीक्षा में 96.20 प्रति अंकों के साथ हिमांशु राज ने टॉप किया था। 2020 का रिजल्ट 2019 की तुलना में मामूली सा कम रहा था। 2019 में 80.73 प्रति स्टूडेंट्स हुए थे।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *