बिहार बोर्ड ने हासिल की उपलब्धि, इस मामले में देश के अन्य सभी बोर्ड को पीछे छोड़ दिया

बिहार बोर्ड ने हासिल की उपलब्धि, इस मामले में देश के अन्य सभी बोर्ड को पीछे छोड़ दिया

बिहार बोर्ड ने हासिल की उपलब्धि, वह देश के अन्य सभी बोर्ड को पीछे छोड़कर इस मामले में आगे निकल गया है। वास्तव में सी.बी.एस.ई., आईसीएसई या देश के कई राज्य बोर्ड जब दसवीं और 12 वीं की बोर्ड परीक्षा देंगे, तब तक बिहार बोर्ड के छात्र नए सत्र के नामांकन ले चुके होंगे। इसके अलावा आगे आने वाले तमाम प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए इंटर के छात्रों को अच्छा खासा समय मिल जाएगा।

जी हां, कोरोनाइरस को देखते हुए देश भर में सीबीएसई और आईसीएसई ने मई के पहले सप्ताह से परीक्षा तिथि जारी की है। इन बोर्ड के रिजल्ट 15 जुलाई तक घोषित किए जाएंगे। स्नातक स्तर का सत्र शुरू होते अगस्त और सितंबर आ जाएगा। लेकिन वहीं बिहार की बात करें तो इंटर का रिजल्ट आने से आगे उच्च शिक्षा में नामांकन समय से हो पायेगा। इसके साथ सत्र भी समय पर शुरू होगा।

इंटर के बाद विवि चयन, कॉलेज चयन आदि में किधर जा रहे हैं, इसके लिए छात्रों के पास पर्याप्त समय रहेगा। बिहार के अलावा दूसरे विवि में नामांकन के लिए भी लंबा समय मिलेगा। इतना ही नहीं देश और विदेश के भी विवि में छात्र अपना नामांकन करवा सकते हैं। उनके नामांकन में फार्म भरने में छात्रों को समय मिलेगा। देश भर के विवि को खोजना, छात्रवृति आदि की जानकारी भी छात्र ले सकते हैं। ज्ञात हो कि 2020 में भी इंटर का रिजल्ट बेहतर होने का फायदा छात्रों को नामांकन में खूब हुआ। कोरोना संक्रमण के बावजूद सत्र समय पर शुरू हो पाया।

तीन साल से रिजल्ट देने में अव्वल हो रहे बोर्ड
बिहार बोर्ड पिछले तीन साल से सीबीएसई और आईसीएसई से पहले रिजल्ट दे रहा है। इंटर 2019 में तीनों संकाय का रिजल्ट एक साथ 30 मार्च को जारी किया गया था। वहीं 2020 में 24 मार्च को कोरोना संक्रमण में लॉकडाउन के बावजूद रिजल्ट जारी हुआ था। इस बार भी बिहार बोर्ड ने तमाम बाधाओं के बावजूद 26 मार्च को इंटर के तीनों संकाय का रिजल्ट जारी कर दिया है।

मई में कंपार्टमेंटल परीक्षा और रिजल्ट भी
बिहार बोर्ड की मानें तो अप्रैल में कंपार्टमेंटल सह विशेष परीक्षा का ऑफलाइन फॉर्म भराया जाएगा। इसके बाद मई में कंपार्टमेंटल सह विशेष परीक्षा का आयोजन होगा। इसकी रिजल्ट भी मई में जारी कर दी जाएगी। इससे कंपार्टमेंटल देने वाले परीक्षार्थियों को समय पर रिजल्ट मिल सक्षमगा और आगे नामांकन ले सकता है। किसी भी छात्र का समय बर्बाद नहीं किया जाएगा।

जेईई एडवांस की तैयारी में पूरा समय मिलेगा
बिहार बोर्ड लगातार दूसरे साल इंटर का रिजल्ट मार्च में जारी किया गया है। रिजल्ट समय पर होने से सबसे ज्यादा फायदा जेईई मेन में सफल छात्रों को मिलेगा। अब जेईई एडवांस और नीट की तैयारी बिहार बोर्ड के छात्र बेहतर कर रहे हैं। जबकि सीबीएसई और आईसीएसई के छात्र के लिए जेईई एडवांस और नीट की तैयारी बोर्ड परीक्षा के साथ ही होगी।

लगातार तीन साल से बोर्ड दे रहा इंटर का सबसे पहले रिजल्ट
वर्ष – रिजल्ट की तिथि

2019 – 30 मार्च
2020 – 24 मार्च
2021 – 26 मार्च

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *