बिहार पंचायत चुनाव 2021: कितने चरणों में होंगे ग्राम प्रधान का इलेक्शन, जानिए चुनाव आयोग की तैयारी

बिहार पंचायत चुनाव 2021: कितने चरणों में होंगे ग्राम प्रधान का इलेक्शन, जानिए चुनाव आयोग की तैयारी

बिहार में 2021 में पंचायत चुनाव प्रस्तावित है। चुनाव आयोग के साथ-साथ प्रशासनिक स्तर पर भी इसकी तैयारियां शुरू हो गई हैं। संभावना जताई जा रही है कि मार्च से मई के बीच पंचायत चुनाव हो सकते हैं। # बिहार पंचायत चुनाव 2021

सूत्राें का कहना है कि आयोग विचार कर रहा है कि पंचायत चुनाव अधिकतम नौ चरणों में हों। पटैल मुख्यालय में पंचायत आम चुनाव 2021 की मतगणना करायी जाएगी। चुनाव के दौरान जिलों में अर्द्वसैनिक बलों की तैनाती की जाएगी। पंचायत चुनाव को लेकर रविवार को जारी विज्ञप्ति में राज्य निर्वाचन आयोग, बिहार ने राज्य के सभी 38 जिलों के जिलाधिकारी को जिला निर्वाचन पदाधिकारी (पंचायत) और जिला पंचायतीराज पदाधिकारी को जिला उप निर्वाचन पदाधिकारी नामित किया

बिहार पंचायतीराज अधिनियम, 2006 और बिहार पंचायत निर्वाचन नियमावली, 2006 के तहत आयोग ने उन्हें यह जिम्मेदारी सौंपी। आयोग के अनुसार पंचायत आम निर्वाचन, 2021 और आम निर्वाचन के पश्चात पंचायतों में कतिपय कारणों से होने वाले रिक्त पदों के उप चुनाव को लेकर यह जिम्मेदारी सौंपी गयी है।

यह भी पढ़े :- नए कृषि कानून को लेकर गरजे दीपांकर, कहा- वापस लेने से कम पर प्रतिबद्धता नहीं

एक अन्य निर्देश में आयोग के सचिव योगेंद्र राम ने कहा कि सभी जिला पदाधिकारी सह जिला निर्वाचन पदाधिकारी (पंचायत) को वर्ष 2021 में मार्च-मई के बीच त्रिस्तरीय पंचायतों और ग्राम कचहरियों का आम चुनावए जाने की संभावना है

पंचायत चुनाव में मतदान केंद्रों की संख्या विधानसभा चुनाव के मतदान केंद्रों की तुलना में अधिक हो जाती है। जिससे अपराधियों और सुरक्षा बलों की आवश्यकता भी बढ़ जाती है। आयोग ने कहा कि पंचायत चुनाव केंद्रीय अर्द्वसैनिक बलों की प्रतिनियुक्ति को लेकर सरकार को पत्र लिखा जा रहा है। इसकी स्वीकृति प्राप्त होने के बाद सभी जिलों को इसकी सूचना दी जाएगी।

मतगणना तँदल मुख्यालय में को विभाजित 19 को ध्यान में रखते हुए बड़े हॉल में बनाया जाना है। राईल मुख्यालय में बज्रगृह के लिए भवन चिन्हित कर इसकी सुरक्षा अर्द्वसैनिक बल / जिला बल द्वारा की जानी है

यह भी पढ़े :- किसान एक्सप्रेस अब रामदयालुनगर स्टेशन पर भी रुकेगी, अधिक जानकारी के लिए पढ़े

आयोग के सचिव ने निर्देश दिया कि सभी डीएम अपने जिले के सम्मानित पुलिस अधीक्षक और अन्य संबंधित पदाधिकारियों के साथ सौदा करने के बाद उनके जिले में कितने चरण में पंचायत चुनाव हो, इसका प्रस्ताव बनाकर भेजें।

आयोग के अनुसार अधिकतम नौ चरणों में पंचायत चुनाव होंगे। आयोग ने इसके लिए चरणवार प्रखंडों का विवरण अधिकतम दो सप्ताह में मांगा है। इसलिए चुनाव कराये जाने का प्रस्ताव राज्य सरकार के विचार के लिए भेजा जाएगा।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *